Category: Uncategorized

दुष्ट डाकिया-रवींद्रनाथ ठाकुर

आज मैं फिर से भारत के नोबल पुरस्कार विजेता कवि गुरुदेव रवींद्र नाथ ठाकुर की एक और कविता का अनुवाद प्रस्तुत कर रहा हूँ। यह उनकी अंग्रेजी भाषा में प्रकाशित जिस कविता का भावानुवाद है, उसे अनुवाद के बाद प्रस्तुत […]

लिखा गया दीवारों पर!

लीजिए चुनाव के परिणाम भी आ गए। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने धन्यवाद देते हुए कहा कि ‘जनता ने इस फक़ीर की झोली भर दी’। प्रधानमंत्री के उच्च पद पर सुशोभित व्यक्ति की इस सरलता को ‘लुटियंस दिल्ली’ के खास […]

61. अरुण यह मधुमय देश हमारा

आज फिर से पुराने ब्लॉग का दिन है, लीजिए प्रस्तुत है एक और पुराना ब्लॉग- आज याद आ रहा है, शायद 27 वर्ष तक, मैं स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस के अवसर पर संदेश तैयार किया करता था, ये संदेश […]

हमको अपना साया तक अक्सर बेज़ार मिला!

आज गुरुदत्त जी की 1957 में रिलीज़ हुई प्रसिद्ध फिल्म-प्यासा का एक गीत शेयर कर रहा हूँ, साहिर लुधियानवी जी के लिखे इस बेहद खूबसूरत गीत को, एस.डी.बर्मन जी के संगीत निर्देशन में हेमंत कुमार जी ने अपनी सघन, गहन, […]

यहीं रहती थी वह- रवींद्रनाथ ठाकुर

आज मैं फिर से भारत के नोबल पुरस्कार विजेता कवि गुरुदेव रवींद्र नाथ ठाकुर की एक और कविता का अनुवाद प्रस्तुत कर रहा हूँ। यह उनकी अंग्रेजी भाषा में प्रकाशित जिस कविता का भावानुवाद है, उसे अनुवाद के बाद प्रस्तुत […]

Inspirational Books- Useful or Not!

Do you think Inspirational books are really useful ? #Inspirationalbooks Mentioned above is the #IndiSpire prompt, based on which I am sharing my views today. There are several types of books, creative literary books for which basic thing needed is […]

लो जी आने वाली है फिर नई सरकार!

दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र में चुनाव प्रक्रिया अपने अंतिम पड़ाव है। अंतिम चरण का मतदान 19 मई को होना है और कल 17 मई को प्रचार बंद हो गया। दीदी के बंगाल में तो उनके साहसिक कार्यों के कारण […]

विनत प्रणाम – रवींद्रनाथ ठाकुर

आज मैं फिर से भारत के नोबल पुरस्कार विजेता कवि गुरुदेव रवींद्र नाथ ठाकुर की एक और कविता का अनुवाद प्रस्तुत कर रहा हूँ। यह उनकी अंग्रेजी भाषा में प्रकाशित जिस कविता का भावानुवाद है, उसे अनुवाद के बाद प्रस्तुत […]

वहशी को सुकूँ से क्या मतलब जोगी का नगर में ठिकाना क्या !

आज इब्न-ए-इंशा जी की एक गज़ल शेयर कर रहा हूँ। विख्यात गज़लकार और हास्य लेखक- इब्न-ए-इंशा जी का जन्म पाकिस्तान में हुआ था। उनकी अनेक गज़लें बहुत लोकप्रिय हुई हैं और विख्यात गज़ल गायकों ने इन्हें गाया है। उनकी इस गज़ल के […]

60. बच्चों के लिए जो धरती मां, सदियों से सभी कुछ सहती है!

आज फिर से पुराने ब्लॉग का दिन है, लीजिए प्रस्तुत है एक और पुराना ब्लॉग- सभी को समान अवसर मिले, यह कम्युनिस्टों का नारा हो सकता है, लेकिन इस विचार पर उनका एकाधिकार नहीं है। भारतीय विचार इससे कहीं आगे […]

Ad


blogadda

blog-adda

top post

BlogAdda

Proud to be an IndiBlogger

Skip to toolbar