Tag: #Memoirs

पेट की पगडंडियों के जाल से आगे!

आज फिर से एक पुरानी ब्लॉग पोस्ट शेयर कर रहा हूँ-     आज क़तील शिफाई जी की एक गज़ल याद आ रही है, क्या निराला अंदाज़ है बात कहने का! शायर महोदय, जिनकी नींद उड़ गई है परेशानियों के […]

निंदा, समीक्षा और आलोचना

आज फिर से एक बार पुराना समय याद कर रहा हूँ| पुराने समय को कभी-कभी याद करना बुरा नहीं है, हाँ अतीत में रहना अवश्य बुरी बात है|   हाँ तो बात उस समय की है जब मैं अपने अनेक […]

बीते हुए दिन!

आज फिर से एक पुरानी ब्लॉग पोस्ट शेयर कर रहा हूँ-       अतीत में रहना अक्सर लोगों को अच्छा लगता है, मेरी उम्र के लोगों को और भी ज्यादा। कुछ लोग तो जब मौका मिलता है अतीत में […]

कविता का मायाजाल!

एक समय था जब दिल्ली-शाहदरा में रहते हुए मैंने बहुत सी कवितायें, नवगीत आदि लिखे थे। मेरा जन्म 1950 में हुआ था दरियागंज, दिल्ली में लेकिन पढ़ाई शाहदरा में जाने के बाद ही शुरू हुई और 1980 तक, अथवा 30 […]

ताऊ जी!

  आज ताऊ जी के बारे में कुछ बात कर लेते हैं।     ताऊ जी, हमारे बहुत पहले छूटे हुए गांव के एक ऐसे कैरेक्टर हैं, जिनको शुरू से ही घूमना, विशेष रूप से शहर की रौनक देखना पसंद […]

Ad


blogadda

blog-adda

top post

BlogAdda

Proud to be an IndiBlogger

Skip to toolbar